पेट सफा नेचुरल पेट साफ करने की अचूक दवा

ख़राब जीवन शैली, कम शारीरिक गतिविधि, सामान्य आहार में परिवर्तन, अनियमित खाने की आदतें, जंक फूड इत्यादि कब्ज के विभिन्न कारण हैं। पेट सफा प्राकृतिक रेचक ग्रेन्युल 100% आयुर्वेदिक फॉर्मूलेशन हैं जो पुरानी कब्ज से छुटकारा पाने में मदद करता है।

कब्ज़ का रोग तो आजकल हर उम्र के लोगों, स्त्री-पुरुष, बच्चों सभी में देखा जा रहा है। शायद ही कोई भाग्यशाली व्यक्ति होगा जिसको कब्ज का रोग न हो। कब्ज में स्टूल काफी शुष्क तथा सख्त हो जाता है और अधिक जोर लगाने पर निकलता है। इससे मल-त्याग करने में अत्यंत परेशानी होती है। कई बार तो गुदा में दरारें भी पड़ जाती है।

अक्सर खान-पान और जीवनशैली ठीक न होने के कारण कब्ज जैसी बीमारी होती है। कई बार खाली पेट काफी देर तक रहने पर भी कब्ज होती है। कब्ज में जब पेट साफ नही होता तो आँतों में मल का जमा रह जाता है जिससे भूख और पाचन सभी कुछ बिगड़ जाता है। कब्ज़ के इलाज़ के लिए एक ऐसी दवाई की ज़रूरत होती है जिसमें विरेचक, अनुलोमन, दीपन और पाचन गुण हो और पेट सफा एक ऐसी ही दवा है।

पेट सफा टेबलेट्स, हर्बल आयुर्वेदिक दवाई है और कब्ज के प्रबंधन में उपयोगी है। कब्ज़ होने के कारण अन्य कई रोग जैसे की बवासीर, सख्त मल, गुदा में दरार  शौच में दर्द, खून गिरना, छिल जाना आदि प्रॉब्लम होने लगती है।

पेट सफा को लेने से आँतों में रुका मल आगे बढ़ता है और गैस की समस्या भी दूर होती है। इसमें कई मसाले होने से जठराग्नि प्रदिप्त होती है है और पाचन शक्ति बढती है।

कंपनी Pet Saffa company name

दिविसा Divisa Herbal Care Pvt Ltd

उपलब्धता

  • पेट सफा नेचुरल लक्सेटिव ग्रेन्यूल
  • पेट सफा टेबलेट

पेट सफा के फायदे

पेट सफा, कब्ज का आयुर्वेदिक उपचार है। यह हर्बल है जो आंतों की दीवारों को स्वाभाविक रूप से साफ करने और भोजन से पोषक तत्वों के अधिक अवशोषण को बढ़ावा देता है और प्रभावी रूप से मल को आगे बढ़ाने में मदद करता है। यह कब्ज के साथ जुड़े पुराने कब्ज, लंबे समय तक कब्ज, Flatulence, bloating, गैस, गैस्ट्रिक, अम्लता और सिरदर्द में उपयोगी है।

प्राकृतिक विरेचक

पेट सफा का शक्तिशाली जड़ी-बूटियों का मिश्रण है जिसका मुख्य प्रभाव लेक्सेटिव है और यह कब्ज, पेट फूलना, अपचन, गैस और अनियमित आंत्र सिंड्रोम जैसे गैस्ट्रो-आंतों के विकार में मदद करता है।

कब्ज से प्रभावी राहत

सेडेंट्री जीवन शैली, कम शारीरिक गतिविधि, सामान्य आहार में परिवर्तन, अनियमित खाने की आदतें, जंक फूड इत्यादि से कब्ज हो जाता हैं। पेट सफा में प्राकृतिक लक्सेटिव का कॉम्बिनेशन है जो 100% आयुर्वेदिक है। यह पुरानी कब्ज से छुटकारा पाने में मदद करता है। यह वैज्ञानिक रूप से बुने हुए फॉर्मूलेशन के साथ कड़े गुणवत्ता वाले मानकों के तहत विकसित किया जाता है ताकि शरीर की प्रभावी सफाई सुनिश्चित करने के लिए नियमित आंत्र आंदोलनों को बनाए रखा जा सके।

पेट सफा में सेना (कैसिया ऑगस्टिफोलिया) है जो कब्ज का इलाज करने और रेचक के रूप में कार्य करने के लिए एक प्रसिद्ध जड़ी बूटी है।

दे गैस, सिरदर्द और अम्लता से राहत

पेट सफा प्राकृतिक अवयवों से बना आयुर्वेदिक फॉर्मूलेशन है जो पाचन तंत्र की प्राकृतिक संरचना में परिवर्तन नहीं करता है और गैस्ट्रो-आंतों के असुविधाओं को दूर करता है। यह कब्ज से जुड़ी हुई गैस्ट्रिक, सिरदर्द और अम्लता में अत्यधिक फायदेमंद है। यह मल गठन में मदद करता है और पेट फूलना और गैस से राहत देता है।

पाचन में सहयोगी

पेट सफा में अजवाइन है जो गैस्ट्रो आंत्र रस प्रेरित करने के लिए प्रभावी जड़ी बूटी है। पेट सफा पाचन अंगों को फिर से जीवंत करने के लिए एक प्राकृतिक cleanser है और आंत से जहरीले पदार्थों को हटाने का काम करता है।

लेना है आसान

पेट सफा टैबलेट निगलना आसान है और यह मुंह के स्वाद को खराब नहीं करता है।

पेट सफा को कब लेना चाहिए

  • कब्ज से जुड़ी अम्लता
  • कब्ज से जुड़ी गैस्ट्रिक समस्या
  • कब्ज से सिरदर्द
  • पुराना कब्ज

पेट सफा की डोज़ Dosage

पेट सफा टेबलेट

  • पेट सफा की एक से दो गोली को सोते समय हल्के गर्म पानी के साथ निगल कर लेते हैं।
  • हल्के कब्ज के लिए, एक गोली लें और पुरानी कब्ज के लिए
  • गर्म पानी के साथ दो गोलियां लें या चिकित्सक द्वारा निर्देशित करें।

पेट सफा पाउडर | ग्रेन्यूल

वयस्क पेट स्फ्फ्फ़ नेचुरल लेक्सेटिव ग्रेन्यूल को 5 से 10 ग्राम (1 से 2 चम्मच) की डोज़ में हल्के गर्म पानी के साथ निगल कर ले सकते हैं।

कब्ज़ के लिए अन्य सुझाव और घरेलू उपचार

अनियमित दिनचर्या, गलत आहार-विहार, चटपटी और मसालेदार चीजों का ज्यादातर सेवन, बाजार की बनी बासी चीजें खाने, समय पर शौचालय न जाने या उसे दबाने पर पेट में कब्ज बनने लगती है। इसलिए खाने पीने और जीवन शैली में बदलाव लायें।

खाने में फल, सब्जियां, और पूरे अनाज जैसे फाइबर में समृद्ध खाद्य पदार्थों का सेवन करना महत्वपूर्ण है। फाइबर आंत्र आंदोलनों को बढ़ावा देता है और कब्ज को रोकता है । फाइबर में कम खाद्य पदार्थ और उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थ जैसे पनीर, मांस और अंडे आदि का सेवन नहीं करें। शारीरिक निष्क्रियता दूर करें। ढेर सारा पानी पियें।

नियमित रूप से एक गिलास दूध में अंजीर के कुछ टुकड़ों को उबालें और इसे रात को सोने से पहले पिएं। ध्यान रहे, गर्म दूध ही पिएं। पका हुआ बेल खाएं।

सिगरेट छोड़ने पर अगर कब्ज की शिकायत होने लगे तो पीने के पानी की मात्रा बढ़ा देनी चाहिए तथा प्रातः गुनगुने पानी का सेवन करना चाहिए ।

प्रातः जल-सेवन के बाद कुछ देर भ्रमण करने से मलत्याग सरलता से होता है।

पेट सफा टेबलेट कीमत

पेट सफा की 30 टेबलेट की कीमत 78 रूपये है।

चेतावनी

  • केवल निर्धारित खुराक लें या चिकित्सक द्वारा निर्देशित करें।
  • सर्वोत्तम परिणामों के लिए, गर्म पानी के साथ एक गिलास के साथ लें।
  • गर्भावस्था में इसकी सिफारिश नहीं की जाती है।
  • किसी भी लेक्सेटिव का लंबे समय तक उपयोग, विशेष रूप से उत्तेजनात्मक लक्सेटिव्स जैसे सेना, करने से अक्सर लेक्सेटिव डिपेंडेंस सिंड्रोम होता है, जिसमें बिना रेचक के पेट साफ़ नहीं हो पाता है।
  • सनाय का दीर्घकालिक उपयोग कोलन (मेलेनोसिस कोलाई) के पिग्मेंटेशन से जोड़ा गया है।

गर्भावस्था और स्तनपान

यदि आप गर्भवती हैं तोइस दवा का प्रयोग न करें।

यह ज्ञात नहीं है कि क्या यह स्तन दूध से बच्चे में जा सकती है या नर्सिंग बेबी को नुकसान पहुंचा सकती है। यदि आप बच्चे को स्तनपान करा रही हैं तो अपने डॉक्टर को बताए बिना इस दवा का प्रयोग न करें।

बच्चे

2 साल से कम उम्र के बच्चे को यह दवा नहीं दें।

पेट सफा टेबलेट के संभावित साइड इफेक्ट्स या नुकसान

पेट सफा में सेना/सनाय की पत्तियाँ है। सनाय से दस्त हो सकता है, तरल पदार्थ, हाइपोकैलेमिया, और पेट दर्द / क्रैम्पिंग हो सकता है।

सनाय के दीर्घकालिक उपयोग के परिणामस्वरूप रेचक पर निर्भरता होती है। सेना और हेपेटोटोक्सिसिटी के दीर्घकालिक प्रशासन के बीच एक संभावित संबंध देखा गया है।

  • गंभीर पेट दर्द, मतली, उल्टी
  • कोई आंत्र आंदोलन नहीं
  • गैस, सूजन
  • दस्त
  • हल्की मतली
  • यह साइड इफेक्ट्स की पूरी सूची नहीं है और अन्य हो सकते हैं। किसी भी असामान्य या परेशान दुष्प्रभाव के बारे में अपने डॉक्टर से कहें।
  • अत्यधिक मात्रा में लेने के लक्षणों में मतली, उल्टी, पेट दर्द, या दस्त शामिल हो सकते हैं।
  • यदि कब्ज में सुधार नहीं होता है या इसे लेने के बाद यह और भी खराब हो जाता है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

पेट सफा टेबलेट किसे नहीं लेनी चाहिए Contraindications

  • 2 साल से कम उम्र के बच्चों में
  • अनियंत्रित उच्च रक्त चाप
  • अल्सरेटिव कोलाइटिस
  • आंतों में बाधा
  • उच्च पोटेशियम के स्तर
  • एपेंडिसाइटिस
  • क्रॉन रोग वाले मरीज
  • गंभीर ऐंठन
  • दस्त
  • पेट में दर्द

ड्रग इंटरेक्शन

मूत्रवर्धक जैसे पोटेशियम को कम करने के लिए जाने वाली दवाओं के साथ सेना का उपयोग सीमित करना चाहिए या टालना चाहिए। चूंकि सेना दस्त का कारण बन सकती है, वार्फ़रिन प्राप्त करने वाले मरीजों में सावधानी बरतनी चाहिए, क्योंकि दस्त से विटामिन के अवशोषण को कम किया जा सकता है और रक्तस्राव का खतरा बढ़ सकता है।

पेट सफा का कम्पोजीशन composition

पेट सफा टेबलेट

प्रत्येक गोली में पानी में निकाला हुआ एक्सट्रेक्ट:

  • सेना की पत्ती का एक्सट्रेक्ट 250 mg
  • त्रिफला 80 mg
  • सौंफ 50 mg
  • अजवाइन 30 mg
  • काली मिर्च 25 mg
  • हरीतकी 20 mg
  • मुलेठी 20 mg
  • सज्जीक्षार 10 mg
  • सिट्रिक एसिड पाउडर 8 mg
  • निशोथ 5 mg
  • प्रेज़रवेटिव सोडियम मिथाइलपैराबेन सोडियम प्रोपाइलपैराबेन

पेट सफा नेचुरल लक्सेटिव Granules

100 ग्राम पेट सफा चूर्ण में:

  • सनाय की पत्तियाँ 35 ग्राम
  • काला नमक 2 ग्राम
  • अजवाइन 10 ग्राम
  • इसबगोल  8 ग्राम
  • त्रिफला  चूर्ण (हरड़, बहेड़ा, आँवला) 9 ग्राम
  • सेंधा नमक 5 ग्राम
  • सज्जी क्षार सोडियम बाइकार्बोनेट 3 ग्राम
  • हरीतकी 3 ग्राम
  • अमलतास का गूदा 3 ग्राम
  • सौंफ  3 ग्राम
  • सोंठ 3 ग्राम
  • निशोथ (त्रिवृत) 2.8 ग्राम
  • जीरा  2 ग्राम
  • एरंड का तेल (अरण्डी का तेल) 1 ग्राम

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!