जानिये झंडू विगोरेक्स के फायदे क्या होते हैं

जानिये झंडू विगोरेक्स जो की एक हर्बल दवाई है किन लोगों को फायदा पहुंचा सकती है। सीखिए झंडू विगोरेक्स लेने का तरीका और इसके साइड इफेक्ट्स से बचने के उपाय के बारे में।

Zandu vigorex विगोरेक्स को झंडू फार्मासिटुकल ने बनाया है। यह पूरी तरह से आयुर्वेदिक है और इसे लेने से स्ट्रेस कम होता है। जैसा सभी जानते हैं शरीर में रोगों की उपज की वज़ह कहीं न कही स्ट्रेस ही होती है। झंडू विगोरेक्स को लेने से तनाव कम होता है और एनर्जी मिलती है। इसमें हेर्ब्स और मिनरल्स हैं जिससे स्ट्रेस कम होता है और रोजमर्रा के काम करनी की ताकत आती है। अच्छे रिजल्ट के लिए इसका एक कैप्सूल दिन में दो बार लेना चाहिए। इसे दूध के साथ निगल जाएँ। साठ वर्ष से अधिक के लोग इसे एक कैप्सूल/ दिन, की मात्रा में ल सकते हैं।

झंडू विगोरेक्स क्या है?

विगोरेक्स एक मिनरल और हर्ब का कॉम्बिनेशन है जिसे ऊर्जा बूस्टर और सहनशक्ति बढाने के लिए सप्लीमेंट की तरह से २-३ महीने ले सकते हैं। यह कामोद्दीपक, एडप्टोजन और एंटीऑक्सीडेंट है।

आप झंडू विगोरेक्स को निम्न स्थितियों में ले सकते हैं:

  • अल्पशुक्राणुता (शुक्राणुओं की कमी)
  • कम ऊर्जा स्तर
  • कम कामेच्छा
  • कमजोरी, थकावट उर्जा की कमी
  • कार्यात्मक नपुंसकता
  • तनाव
  • थकावट
  • दैनिक गतिविधियों में रुचि का न होना
  • धातु की कमी
  • पार्किंसंस रोग
  • प्रमेह
  • बुढ़ापे की कमज़ोरी
  • मानसिक थकान दूर करना
  • मूत्र रोग
  • यौन दुर्बलता
  • वीर्य दोष
  • शारीरिक कमजोरी
  • शीघ्र पतन, स्तम्भन दोष, इन्द्रिय की शिथिलता-निस्तेज होना
  • शुक्र दोष
  • स्तंभन दोष
  • स्नायु की दुर्बलता
  • स्मृति में कमी(भूलना)

झंडू विगोरेक्स के 6 फायदे

विगोरेक्स का मुख्य फायदा इसका तनाव कम करने का गुण और एनर्जी देना है। इसे लेने से स्ट्रेस कम होता है, विटामिन की कमी दूर होती है।

झंडू विगोरेक्स सुधारे आपका प्रदर्शन

विगोरेक्स में कामोद्दीपक, ताकत बढ़ाने, स्ट्रेस कम करने और स्टैमिना में सुधार लाने के गुण हैं। यह जड़ी-बूटियों और खनिजों का संयोजन है जो हर तरह केप्रदर्शन में सुधार लाता है ।

झंडू विगोरेक्स करे मांसपेशियों को मज़बूत

विगोरेक्स में मुस्ली, केवांच बीज, गोखरू और अश्वगंधा है जो शरीर में वसा की मात्रा को बढ़ाए बिना मांसपेशियों को बढ़ाते है। मांसपेशियों की ताकत बढने से शारीरिक सहनशक्ति और प्रदर्शन में सुधार होता है। इसे बॉडी बिल्डिंग में रूचि रखने वाले लोग भी ले सकते हैं।

झंडू विगोरेक्स खाने से बढती है कामेच्छा

विगोरेक्स लिबिडो को बढ़ाता है क्योंकि यह कम टेस्टोस्टेरोन का स्तर ठीक कर सकता है।क म टेस्टोस्टेरोन कम कामेच्छा या इच्छा में कमी का कारण होता है। सफ़ेद मुस्ली, अश्वगंधा, और गोखरू शरीर में टेस्टोस्टेरोन के प्राकृतिक स्तर को बहाल करने में मदद करते हैं।

झंडू विगोरेक्स जोड़ों के दर्द को करे कम

झंडू विगोरेक्स स्ट्रेस, थकान और कमजोरी को दूर करता है झंडू विगोरेक्स लेने से तनाव कम होता है, कमजोरी दूर होती है। विगोरेक्स ऊर्जा स्तर में सुधार लाता है और थकावट को कम करने का काम करता है। इसे खाने से ताकत मिलती है और मूड को अच्छा होता है। ताकत कम हो तो थोडा काम के बाद इंसान थका हुआ महसूस करता है। विगोरेक्स में मन शांत करने, नींद लाने और तनाव और चिंता कम करने के गुण हैं।

झंडू विगोरेक्स लेने से ठीक से होता है स्तम्भन

विगोरेक्स लेने से पुरुषों में जोशा और ताकत आती है। शिलाजीत, मूसली, कौंच बीज की गिरी, अश्वगंधा होने से यह सप्लीमेंट हॉर्मोन के लेवल में सुधार लाती है। हॉर्मोन ठीक होने पर आदमियों की कमजोरी की समस्या दूर होती है।

झंडू विगोरेक्स शरीर में दर्द में लाभप्रद है

विगोरेक्स में एनाल्जेसिक, दर्द निवारक, गर्मी लाने के, और एंटीऑक्सीडेंट गुण हैं।

विगोरेक्स खाने से शरीर में दर्द की शिकायत में फायदा हो सकता है क्योंकि यह दवा ताकत देती है उअर विटामिन की कमी को दूर करती है। विगोरेक्स में मौजूद सफ़ेद मुस्ली, गोखरू, और अश्वगंधा, आदि मांसपेशियों को ताकत देते हैं और जोड़ों को ताकत देते है। शरीर में यदि खून और विटामिन की कमी है तो भी वो इसे खाने से खाने से दूर होती है।

यह दवा बताई गई मात्रा में लेने के लिए सेफ है और साइंटिफिक रूप से प्रूवन है।

झंडू विगोरेक्स की कीमत

जांदू विगोरेक्स Zandu Vigorex – 20 Capsules का प्राइस है:

MRP: 380.00

झंडू विगोरेक्स के साइड इफेक्ट्स Zandu vigorex side effects

  • विगोरेक्स लेने से कुछ लोग फायदा नहीं होने की शिकायत करते हैं।
  • विगोरेक्स कम से कम दो महीने लेने पर ही रिजल्ट मिल सकते हैं।
  • विगोरेक्स लेने से कुछ लोगों में उलटी जैसा लता है जो इसमें मौजूद मिनरल के कारण से हो सकता है।
  • विगोरेक्स लेने से सिर में दर्द की शिकायत भी कुछ यूजर के द्वारा बताई गई है।
  • विगोरेक्स को मल्टी विटामिन के साथ लेने से शरीर में मिनरल का ओवरडोज़ हो सकता है।
  • विगोरेक्स को ज्यादा मात्रा में लेंगे तो यह overstimulating हो सकता है।

विगोरेक्स कब नहीं लें? CONTRAINDICATIONS

शरीर में मिनरल ज्यादा हैं तो इसे नहीं लें।

शरीर में आम दोष है, तो इसे नहीं लें।

खुराक और लेने का तरीका Dosage and administration of Zandu Vigorex in hindi

  • इसे दिन में दो बार तक ले सकते हैं।
  • इसका एक कैप्सूल सुबह और एक कैप्सूल शाम को लें।
  • इसे दूध के साथ लें।
  • इसे खाना खाने के बाद लें।

झंडु विगोरेक्स vigorex का कम्पोजीशन

हर कैप्सूल में

  • केवांच Kaunch Beej extract 125mg
  • मूसली Safed Musali extract 100mg
  • गोखरू Gokshur extract 75mg
  • अश्वगंधा Ashwagandha extract 50mg
  • शिलाजीत Shilajit 50mg
  • जटीफल Jatiphal extract 25mg
  • यशद भस्म Yashad Bhasma 25mg
  • अभ्रक भस्म Abhrak Bhasma 25mg
  • प्रवाल भस्म Praval Bhasma 25mg
  • कपूर Shuddha Karpur 5mg
  • स्वर्ण भस्म Swarna Bhasma 0.5mg
  • Excipients qs

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!